विज्ञापन

mp board social science 10th important question in hindi chapter-2 for 2021 exam,

mp board social science 10th important question in hindi chapter-2 for 2021 exam,

class 10 social science important question in hindi


social science class 10th important question in hindi


mp board 10th social science solution 2020, 10 mp board social science most questions, mp board social science 10th, mp board 10th social science 2019
social science class 10th important question in hindi,
mp board social science imp questions 2020 hindi medium,

प्रश्न 1.खाद्यान्न फसलों से क्या तात्पर्य है ? खरीफ एवं रबी में अन्तर स्पष्ट कीजिए।
👇 Answer is
उत्तर-खाद्यान्न फसलें-खाद्यान्न फसलों से तात्पर्य उन फसलों से है जो भोजन के लिए मुख्य पदार्थ का कार्य करती हैं।जैसे-गेहूँ , चावल, ज्वार, मक्का, बाजरा, चना, अरहर (तुअर) आदि। खरीफ एवं रबी में अन्तर-वे फसलें जो वर्षा ऋतु आरम्भ (जून-जुलाई) में बोई जाती हैं और अक्टूबर-नवम्बर तक तैयार हो जाती हैं. खरीफ की फसल कहलाती हैं; जैसे-चावल,ज्वार, बाजरा, मक्का सोयाबीन, गन्ना, कपास, पटसन, तिली व मूंगफली आदि, जबकि जो फसलें अक्टूबर-नवम्बर में बोई जाती हैं और मार्च-अप्रैल तक तैयार हो जाती हैं, रबी की फसल कहलाती हैं; जैसे-गेहूँ , चना, जौ, सरसों, तम्बाकू आदि।








प्रश्न 2. हरित क्रान्ति से आप क्या समझते हैं ?

👇 Answer is
उत्तर-हरित क्रान्ति का तात्पर्य कृषि उत्पादन में उस तीव्र वृद्धि से है, जो अधिक उपज देने वाले बीजों, रासायनिक उर्वरकों व नई तकनीकी के प्रयोग के परिणामस्वरूप हुई है। इस हरित को सुगन्धित एवं महक देने वाले पौधों के रूप में चिह्नित किया कौन-कौन से हैं?








प्रश्न 3. औषधीय उद्यान विधि के प्रमुख घटक

👇 Answer is
उत्तर-औषधीय उद्यान विधि के अन्तर्गत निम्नांकित फसलों का उत्पादन सम्भव है-फल-भारत में उष्ण कटिबन्धीय फलों के अन्तर्गत आम, केला, नीबू, अनन्नास, पपीता, अमरूद, चीकू, कटहल, लीची, अंगूर, शीतोष्ण कटिबन्धीय फलों में सेब,आडू, नाशपाती, खूबानी, बादाम, अखरोट और शुष्क फलों में आँवला, बेर, अनार, अंजीर का उत्पादन होता है। (1) सब्जियाँ – भारत में उगाई जाने वाली प्रमुख सब्जियाँ टमाटर, प्याज, बैंगन, पत्तागोभी, फूलगोभी, मटर, आलू और खीरा हैं। (2) फूल-भारत में गुलाब, ग्लैडियोला, ट्यूबरोज कोसाद्रा के उत्पादन में तेजी से वृद्धि हुई है। (3) मसाले-यहाँ काली मिर्च, इलायची, अदरक, लहसुन, हल्दी, मिर्च के साथ-साथ बीज वाले मसालों का भी उत्पादन होता है। (4) औषधीय एवं सुगन्धित पौधे-यहाँ लगभग 2000 देशीय प्रजातियाँ को औषधि के रूप में प्रयोग होता है।








प्रश्न 4. उद्यानिकी विकास कार्यक्रम के प्रमुख प्रावधान बताइए।

👇 Answer is
उत्तर-उद्यानिकी विकास कार्यक्रम के प्रमुख प्रावधान निम्नवत् हैं- (1) कलम बैंक स्थापित करना, पर्याप्त गुणवत्ता वाले पौधों का उत्पादन एवं पूर्ति क्षमता बढ़ाना। (2) बागवानी, फसलों के उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि करना। (3) मिट्टी एवं पत्तियों के परीक्षण हेतु प्रयोगशालाएँ, पौधशालाएँ , पाली हाउस, ग्रीन हाउस की सुविधाएँ बढ़ाना। (4) निर्यात के लिए उच्च किस्म को बागवानी फसलों का उत्पादन बढ़ाना। (5) उच्च किस्म के प्रसंस्करण उत्पादों की पैदावार बढ़ाना। (6) विपणन एवं निर्यात के लिए मूलभूत सुविधाओं में वृद्धि करना।








प्रश्न 5. खनिज पदार्थ का क्या महत्व है ?

👇 Answer is
उत्तर-खनिज पदार्थ प्रकृति की अनुपम देन है तथा आधुनिक उन्नति का आधार खनिज पदार्थ ही हैं। कारखानों में लगी मशीनें, पानी पर तैरते जहाज, ऊँची इमारतें, विभिन्न प्रकार के अस्त्र-शस्त्र, सिक्के व हमारे उपयोग में आने वाली बनी सभी वस्तुएँ खनिज पदार्थों की देन हैं। आज विश्व के लगभग सभी राष्ट्रों के औद्योगिक विकास का आधार विभिन्न प्रकार के खनिज पदार्थ ही हैं। अतः कहा जा सकता है मानव के विकास में खनिज पदार्थों का अत्यधिक महत्व है।








प्रश्न 6. छोटा नागपुर के पठार को 'विश्व का खनिज आश्चर्य' क्यों कहते हैं ? समझाइए।

👇 Answer is
उत्तर-आज प्रत्येक राष्ट्र के औद्योगिक विकास का आधार खनिज पदार्थ ही है। अतः प्रत्येक राष्ट्र अपने औद्योगिक विकास हेतु अधिकाधिक खनिज पदार्थ पाना चाहता है परन्तु प्रकृति ने खनिज पदार्थों को पृथ्वी के गर्भ में बहुत नीचे इकट्ठा किया है। अधिकतर खनिज पदार्थ पुरानी चट्टानों में ही पाये जाते हैं। परिणामस्वरूप एक स्थान पर सीमित मात्रा में ही खनिज उपलब्ध हो सकते हैं। परन्तु विश्व के मानचित्र में छोटा नागपुर का पठार खनिज पदार्थों की दृष्टि से बहुत धनी और विविधता लिए हुए है क्योंकि जितना खनिज पदार्थ सम्पूर्ण भारत में विभिन्न क्षेत्र मिलकर निकाल पाते हैं लगभग उतना अकेला नागपुर का पठार खनिज पैदा करता है। इसीलिए छोटा नागपुर को विश्व का खनिज आश्चर्य कहा जाता है।








प्रश्न 7. लोहे के उपयोग पर प्रकाश डालते हुए भारत में लोहा उत्पादक क्षेत्रों का वर्णन कीजिए।

👇 Answer is
उत्तर-लोहा आज के समय में हर व्यक्ति, परिवार, समाज, देश और विश्व की महती आवश्यकता बन गया है। हम हर समय और हर स्थान पर अपने आपको लोहे के प्रयोग से जुड़ा हुआ अनुभव कर सकते हैं। घर में, विद्यालय में, अस्पताल में, मन्दिर में, सिनेमाघर में, दुकान में, दफ्तर में, बस स्टैण्ड पर, रेलवे स्टेशन पर आदि सभी स्थानों पर हम लोहे का उपयोग कर रहे होते हैं। बचपन के खिलौनों से साइकिल तक, मोटर साइकिल से कार तक, बस से रेलगाड़ी तक हर जगह हम लोहे का उपयोग करते हैं। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि आज वायु, जल और भोजन के बाद लोहा हमारी चौथी अनिवार्य आवश्यकता बन गई है।








प्रश्न 8. श्वेत क्रान्ति व पीत क्रान्ति में अन्तर स्पष्ट कीजिए।

👇 Answer is
उत्तर-श्वेत क्रान्ति व पीत क्रान्ति में अन्तर को निम्न प्रकार से समझा जा सकता है- श्वेत क्रान्ति का अर्थ है डेरी विकास कार्यक्रमों के द्वारा दूध के उत्पादन में वृद्धि। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों में दूध का उत्पादन बढ़ाने पर विशेष बल दिया गया है। इसे 'ऑपरेशन फ्लड' के नाम से जाना जाता है। सरकार द्वारा विदेशी नस्लों की गायों तथा स्थानीय गायों के संकरण से नई जातियों का विकास किया गया है। उपरोक्त प्रयासों से देश में कुल दूध उत्पादन में बढ़ोत्तरी हुई। जबकि खाद्य तेलों और तिलहन फसलों के उत्पादन के क्षेत्र में अनुसन्धान और विकास करने की रणनीति को पीत क्रान्ति कहते हैं। इस क्रान्ति के अन्तर्गत भारत सरकार ने एक तकनीकी मिशन की शुरूआत की जिसके द्वारा राष्ट्रीय, राज्य व स्थानीय स्तर पर गठित सरकारी समितियों, कृषि अनुसन्धान संस्थाओं एवं ऋण प्रदान करने वाली संस्थाओं की मदद से तिलहन उत्पादन की अधिक लाभप्रद बनाने के उपाय किये गये।




mp board social science 10th important question in hindi chapter-2 for 2021 exam

xxxxx

0 Response to "mp board social science 10th important question in hindi chapter-2 for 2021 exam,"

टिप्पणी पोस्ट करें

Iklan Atas Artikel

adz

विज्ञापन